अखबार मालिकान लाने वाले हैं स्कीम, साथियों लालच में मत आना

जयपुर। मजीठिया वेतन बोर्ड मामले में सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का सामना कर रहे देशभर के अखबार मालिकान अब नया हथकंड़ा अपनाने की सोच रहे हैं। इस बार हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट की ओर से कर्मचारियों का पक्ष लेने से अखबार मालिकान डर गए हैं। उन्हें पता चल चुका है कि देर-सवेर सुप्रीम कोर्ट कर्मचारियों के पक्ष में फैसला सुना देगा। साथ ही बर्खास्त, निलम्बित और तबादला किए गए कर्मचारियों को भी नए वेतन के हिसाब से दोबारा नौकरी पर लेना होगा। इन सभी कर्मचारियों को बिना नौकरी किए अब तक का पूरा पैसा भी देना पड़ेगा। इन सभी पहलुओं पर विचार- विमर्श कर अखबार मालिकान अब नई चाल चलने वाले हैं। वे कर्मचारियों को कुछ नकद पैसा देकर और कुछ सैलेरी बढ़ाकर नौकरी करते रहने का प्रलोभन देने वाले हैं। यह प्रलोभन अभी सिर्फ उन कर्मचारियों को दिया जाएगा, जो मजीठिया मामले में सुप्रीम कोर्ट गए हैं और अभी संस्थान में ही नौकरी कर रहे हैं। जो कर्मचारी सुप्रीम कोर्ट नहीं गए हैं, उन्हें फूटी कौड़ी भी नहीं मिलेगी। इसके बाद बर्खास्त, निलम्बित और तबादला किए गए कर्मचारियों से डील की जाएगी। पिछली सुनवाई में अखबार मालिकान सुप्रीम कोर्ट का रूख भी देख चुके हैं और उनके वकीलों ने भी उन्हें संकेत दे दिए हैं। इसलिए अखबार मालिकान प्रलोभन देकर जितना पैसा बचा सकते हैं, उतना बचाने की कोशिश कर रहे हैं। जितने कर्मचारी उनके प्रलोभन में आ जाएं, उनके लिए उतना ही अच्छा है। जो कर्मचारी उनके प्रलोभन में नहीं आएगा, उसके लिए वे दूसरी स्कीम भी ला सकते हैं। एरियर का यह पैसा नगद दिया जाएगा, जिससे जो कर्मचारी सुप्रीम कोर्ट नहीं गए हैं या जिन्होंने समझौता कर लिया है, वे संस्थान के लिए सिरदर्द नहीं बनने पाएं। साथ ही सैलेरी भी मजीठिया के हिसाब से ना देकर कुछ फीसदी बढ़ाई जाएगी और इन कर्मचारियों को नई कम्पनी में ज्वॉइनिंग दी जाएगी। हालांकि, एरियर और सैलेरी की कितनी राशि कर्मचारियों को ऑफर की जाएगी, यह अभी तय नहीं हो पाया है। अखबार मालिकान इन सब बातों पर फिलहाल मंथन कर रहे हैं और जल्द ही कोई स्कीम लाने वाले हैं। मीडिया के साथियों आप अखबार मालिकान के किसी भी प्रलोभन में नहीं आए। इतना सब्र रखा है तो थोड़ा सा और रखिए। सुप्रीम कोर्ट आपको आपका पूरा पैसा और मजीठिया के हिसाब से पूरी सैलेरी दिलाएगा। अखबार मालिकान आपको तंग भी नहीं कर पाएंगे। घायल वन्स अगेन में सन्नी देओल ने भी कहा है कि यदि आप सच के साथ हैं तो तब तक लड़ते रहिए जब तक आप जीत ना जाएं।