वाह! रे पत्रिका प्रबंधन, सम्पादकीय विभाग की मीटिंग ले रहा सर्कुलेशन वाला

इन्दौर। वाह! रे पत्रिका प्रबंधन। यदि आप भी इस खबर को पढ़ोगे तो आपके मुंह से भी अनायास ऐसा ही कुछ निकलेगा। मजीठिया केस होने के बाद लगता है पत्रिका प्रबंधन को कुछ ढंग का सूझ ही नहीं रहा है। इसी के चलते सर्कुलेशन के नेशनल हैड सम्पादकीय विभाग की बैठकें ले रहे हैं। अभी कुछ दिनों पहले सर्कुलेशन के नेशनल हैड बीआर सिंह ने जयपुर में सम्पादकीय विभाग की मीटिंग ली थी और खबरें लिखने के साथ ही सर्कुलेशन का कार्य भी देखने की नसीहत दे डाली। इस मीटिंग में तो उन्होंने पत्रकारों को कुत्ता तक कह डाला था।
अब इन्दौर में भी सम्पादकीय विभाग की मीटिंग लेने बीआर सिंह जा पहुंचे। गुरुवार को करीब ११ बजे शुरू हुई मीटिंग में उन्होंने सम्पादकीय विभाग के साथियों को जमकर उनकी कमियां बताईं और उन्हें दुरुस्त करने के उपाय भी बताए। मीटिंग के बाद सम्पादकीय विभाग के साथी कह रहे थे कि मीटिंग लेने का इतना ही शौक है तो पहले खबरें लिखना तो सीखें। लेकिन, साथ ही उनका कहना था कि क्या करें, जब पत्रिका प्रबंधन ही ऐसे लोगों को बढ़ावा दे रहा है तो हम तो नौकरी से मजबूर हैं।