कैंटीन वाले ने किए खड़े हाथ तो पत्रिका ने दिया सेवा विस्तार

जयपुर। राजस्थान पत्रिका प्रबंधन ने फोर्ट फोलियों में तैनात अपने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में से कुछ की सेवा में मार्च तक का विस्तार कर दिया है। भले ही ये कर्मचारी खुश हो रहे हों, लेकिन इनकी नौकरी भी ज्यादा दिन तक चलने वाली नहीं है। सूत्रों का कहना है कि पत्रिका प्रबंधन इनकी जगह कोई व्यवस्था नहीं कर पाया, इसलिए कुछ दिन और इनकी सेवा में विस्तार किया है। इसके बाद इन कर्मचारियों को भी हटा दिया जाएगा।

पत्रिका प्रबंधन को सौदा नहीं लगा मुफीद

सूत्रों का कहना है कि पत्रिका प्रबंधन ने इन कर्मचारियों की जगह कार्य करने के लिए कैंटीन वाले से बात की थी। कैंटीन वाले ने इसके लिए हां भी कर दी, लेकिन वह पैसा बहुत मांग रहा था। सूत्रों का कहना है कि कैंटीन वाले ने पत्रिका प्रबंधन ने प्रति व्यक्ति 12000 रूपए की मांग की और करीब छह कर्मचारियों की जरूरत बताई। वहीं पत्रिका प्रबंधन फोर्ट फोलियों के कर्मचारियों को सिर्फ 6000 रूपए ही देता है। ऐसे में इनके मुकाबले यह राशि ज्यादा थी। पत्रिका प्रबंधन ने कैंटीन वाले से यह राशि कम करने को कहा, लेकिन कैंटीन वाले ने मना कर दिया। इसलिए पत्रिका ने अपने कर्मचारियों की सेवा में मार्च तक का विस्तार कर दिया है, जिससे वह कोई और व्यवस्था कर सके।