पत्रकार अशोक शर्मा के इस्तीफे की जानिए वजह

जयपुर। राजस्थान पत्रिका में लम्बे समय से कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार अशोक शर्मा ने इस्तीफा दे दिया है। मीडिया के गलियारों में इस्तीफे से ज्यादा चर्चा इस बात की है कि आखिर अशोक शर्मा ने इस्तीफा क्यों दिया। इस बारे में अशोक शर्मा का कहना है कि उन्हें परेशान किया जा रहा था। जबकि सूत्रों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के 23 अगस्त के रूख को देखकर राजस्थान पत्रिका प्रबंधन को यह तो लग गया कि केस गए कर्मचारियों को मजीठिया का हक तो देना ही पड़ेगा। ऐसे में केस नहीं गए या केस करके वापस आने वाले कर्मचारियों को इससे कैसे वंचित रखा जाए, इस पर मंथन हो रहा था।

इसलिए इस्तीफा देना बेहतर समझा

आखिर में यह आइडिया आया कि सभी कर्मचारियों को स्काई मीडिया में डाल दो। इसी क्रम में अशोक शर्मा को पत्रिका प्रबंधन ने बुलाया था। सूत्रों का कहना है कि प्रबंधन ने अशोक शर्मा से कहा कि आपकी कम्पनी चेंज की जा रही है और इसके लिए जरूरी दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर दो। यह देख अशोक शर्मा का माथा ठनका, उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। इसके बाद उन्हें परेशान किया जाने लगा, इससे तंग आकर अशोक शर्मा ने इस्तीफा देना ही बेहतर समझा।

केस करने के बाद किया था समझौता

सभी कर्मचारियों के साथ अशोक शर्मा ने भी पहले मजीठिया का केस किया था। लेकिन, प्रबंधन के समझाने और यह आश्वासन देने कि मजीठिया का लाभ मिलेगा तो सभी को मिलेगा। क्योंकि, सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर सभी पर लागू होगा। इस पर अशोक शर्मा केस से वापस आ गए थे। लेकिन, अब कम्पनी चेंज करने की बात कहने पर उन्हें अहसास हो गया था कि केस नहीं गए कर्मचारियों को पत्रिका प्रबंधन कुछ नहीं देने वाला है। चूंकि, उनके रिटायरमेंट में सिर्फ चार साल बाकी हैं, ऐसे में उन्हें जो पैसा चार साल बाद मिलेगा, उससे दोगुना तो अभी मिल जाएगा। ऐसे में उन्होंने इस्तीफा देना ज्यादा बेहतर समझा।