बड़ी खबर : एचटी के 400 लोगों ने मुकदमा जीता, होंगे बहाल, मिलेगा बकाया

नई दिल्ली। मीडिया इंडस्ट्री की बहुत बड़ी खबर आ रही है। हिंदुस्तान टाइम्स समूह के मैनेजमेंट से 400 मीडियाकर्मियों ने मुकदमा जीत लिया है। ये चार सौ लोग वर्ष 2004 में हिंदुस्तान टाइम्स मीडिया लिमिटेड से निकाल दिए गए थे। इन्हें एक झटके में प्रबंधन ने निकाल बाहर किया था। श्रम कानूनों से लेकर संविधान की मूल भावना तक की धज्जियां एचटी वालों ने उड़ाई। मजेदार ये कि एचटी मैनेजमेंट की तरफ से अरुण जेटली मुकदमा लड़ रहे थे। साथ ही दर्जनों बड़े वकीलों की फौज भी थी। हालांकि मंत्री बनने के बाद अरुण जेटली ने वकालत का काम छोड़ दिया है।
उधर, चार सौ मीडियाकर्मियों की तरफ से प्रशांत भूषण और उनकी टीम थी। वरिष्ठ पत्रकार अरविंद मोहन ने भी मीडियाकर्मियों की लड़ाई को पूरा सपोर्ट दिया और प्रशांत भूषण को कोर्ट जाकर मीडियाकर्मियों का पक्ष प्रमुखता से रखने को प्रेरित किया। अदालत में लगभग साढ़े ग्यारह - बारह साल तक मुकदमा चला और अब जाकर जो फैसला आया वह मीडियाकर्मियों को खुश करने वाली है।

अदालत ने सभी चार सौ लोगों को वापस काम पर रखने का आदेश एचटी मीडिया को दिया है। साथ ही इनका जो बकाया, ग्रेच्युटी, प्रमोशन ड्यू है, वह सब देने को कहा है। माना जा रहा है कि इस आदेश के बाद एचटी मीडिया पर सैकड़ों करोड़ रुपये की चपत पड़ने वाली है और इनके बड़े बड़े मैनेजरों की टाई सरकने वाली है। इस पूरी लड़ाई को सक्रिय तरीके से लड़ रहे मीडियाकर्मियों के साथी अखिलेश सिंह ने बताया कि ये बड़े-बड़े मीडिया घराने भले करोड़ों खर्च करके नामी गिरामी वकीलों के जरिए अन्याय की लड़ाई लड़ते हैं लेकिन आखिरकार जीत न्याय की ही होती है।